Home राज्य अमरोहा पति की प्रेमी संग हत्या करने के मामले में अदालत ने सुनाई...

पति की प्रेमी संग हत्या करने के मामले में अदालत ने सुनाई पत्नी व उसके प्रेमी को आजीवन कारावास की सजा;50-50 हजार रुपये जुर्माना

12
0

पति की प्रेमी संग हत्या करने के मामले में अदालत ने सुनाई पत्नी व उसके प्रेमी को आजीवन कारावास की सजा;50-50 हजार रुपये जुर्माना

अमरोहा;;:नौगावां सादात थाना क्षेत्र में अवैध संबंधों में बाधक बने पति की प्रेमी संग मिलकर हत्या करने के मामले में अदालत ने पत्नी व उसके प्रेमी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कारावास के साथ ही 50-50 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। नौगावां सादात थाना क्षेत्र के गांव सुल्तानपुर जहूर हसन निवासी दिलशाद पुत्र भूरे खां की पत्नी खुशमिना उर्फ बुनियादी के गांव के ही अहमद अली के साथ अवैध संबंध थे। जिसकी जानकारी होने पर दिलशाद विरोध करता था। 19 मार्च 2018 की रात दिलशाद व उसकी पत्नी कमरे में सो रहे थे। छह साल का बेटा साहिल भी बराबर में सो रहा था। इसी दौरान पत्नी और उसके प्रेमी ने अवैध संबंधों में बाधक बने दिलशाद की गहरी नींद में सोते समय दुपट्टे से गला दबाकर हत्या कर दी थी। हत्या करते समय बेटे साहिल की आंख खुल गई थीं। उसने सारा राज खोल दिया था। मृतक के भाई आजाद ने मृतक की पत्नी खुशमिना उर्फ बुनियादी व उसके प्रेमी अहमद अली के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया था, लेकिन कुछ दिन बाद जमानत पर छूट गए थे। हत्या का मुकदमा एडीजे प्रथम राकेश कुमार चतुर्थ की अदालत में चल रहा था। शासकीय अधिवक्ता बसंत सिंह सैनी पीड़ित पक्ष का केस लड़ रहे थे। बुधवार को न्यायाधीश ने केस की सुनवाई की। पीड़ित पक्ष के अधिवक्ता ने हत्यारोपी पत्नी व उसके प्रेमी के खिलाफ मजबूत सबूत प्रस्तुत किए। घटना का चश्मदीद गवाह मृतक के बेटे साहिल के बयान दर्ज कराए। जिसके चलते अदालत ने हत्या का दोषी करार देते हुए पत्नी व उसके प्रेमी को आजीवन कारावास के अलावा 50-50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया। सजा होने के बाद पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया। सुल्तानपुर जहूर निवासी दिलशाद की हत्या करते समय उसके छह वर्षीय बेटे की आंख खुल गई थीं। वह घटना का चश्मदीद गवाह था। बुधवार को शासकीय अधिवक्ता ने अदालत से अनुमति लेने के बाद साहिल के बयान दर्ज कराए। उसके बयान और सबूतों के आधार पर सजा सुनाई गई। शासकीय अधिवक्ता ने बताया कि मां और उसके प्रेमी को जेल भिजवाने में बेटे की अहम भूमिका रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here