Home राज्य रामपुर आजम खां के खिलाफ एक और मामले में चार्जशीट दाखिल

आजम खां के खिलाफ एक और मामले में चार्जशीट दाखिल

32
0

रामपुर। सांसद आजम खां पर कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है। पुलिस उनके खिलाफ दायर मुकदमों में चार्जशीट लगा रही है तो किसानों के अदालत में बयान करा रही है। ईडी भी उनके खिलाफ जांच शुरू करने जा रही है। एसपी ने ईडी को रिपोर्ट भी भेज दी है। वहीं सैफनी में विवादित बोल के मामले में चार्जशीट कोर्ट में दाखिल कर दी है। 

 

लोकसभा चुनाव के दौरान सपा से प्रत्याशी रहे आजम खां ने सात अप्रैल को सैफनी में हुई जनसभा में भड़काऊ भाषण देकर जनता को उत्तेजित करने का प्रयास किया। प्रशासन पर उनकी हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया। संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों के लिए अनर्गल शब्दों का इस्तेमाल किया। वीडियो अवलोकन टीम के प्रभारी अनिल कुमार चौहान ने शाहबाद कोतवाली में आजम के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 125 व 135(2) के तहत चार्जशीट एसीजेएम द्वितीय कोर्ट में दाखिल कर दी है। 

 

 जिलाधिकारी की कोर्ट में दर्ज होंगे 16 वाद

 

 सांसद आजम खां मुकदमों के खिलाफ दो चार नहीं, बल्कि 68 मुकदमे दायर हो चुके हैं। इनमें 54 आपराधिक हैं, जो थानों में दर्ज हुए हैं। 26 मुकदमे तो इसी महीने दर्ज कराए गए हैं। इनमें एक मुकदमा प्रशासन ने भी दर्ज कराया है। इन मुकदमों की जांच पुलिस की स्पेशल टीम कर रही है। जमीन पर कब्जे से जुड़े मामलों में पुलिस किसानों के अदालत में बयान भी करा रही है, कानूनी तौर पर साक्ष्य मजबूत रहें। ये सभी मुकदमे आजम खां की मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की जमीन से जुड़े हैं। जमीन से जुड़े 14 मुकदमे राजस्व परिषद में दायर किए गए हैं। अब अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन के मामले में जिलाधिकारी की अदालत में भी वाद दायर करने की तैयारी है। 

 

 भेज दी गई है रिपोर्ट

 

 ईडी ने जमीन से जुड़े मुकदमों के बारे में जानकारी मांगी थी। उनके खिलाफ 27 मुकदमे जमीन कब्जाने के हैं। इसकी रिपोर्ट भेज दी गई है।

 

 

 बिना परमीशन खरीदी गई जमीन

 

 धारा 155 के तहत उनकी अदालत में वाद दायर किया जा सकता है। अनुसूचित जाति के 16 लोगों की जमीन बिना परमीशन खरीदी गई है, जबकि इसे खरीदने के लिए परमीशन लेना जरूरी होता है। 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here